पीएम मोदी ने MSP पर प्रतिबद्धता दोहराई, विपक्ष ने कहा- कानून में हो न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य की गारंटी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों से आंदोलन खत्‍म करने की अपील की। प्रधानमंत्री ने कृषि सुधारों को एक मौका देने की गुजारिश करते हुए कहा कि यह समय खेती को ‘खुशहाल’ बनाने का है और देश को इसी दिशा में आगे बढ़ना चाहिए। एमएसपी है और आगे भी जारी रहेगी। उधर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन को लेकर पलटवार किया। कांग्रेस ने कहा है कि MSP की गांरटी कानून में होनी चाहिए। यही बात भारतीय किसान यूनियन ने भी दोहराई है।

पीएम को मालूम नहीं कि किसान क्‍यों कर रहे आंदोलन

वहीं कांग्रेस ने प्रधानमंत्री के भाषण पर पलटवार करते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री किसानों के मुद्दों का हल करने की बात कैसे करेंगे जब उन्हें मालूम ही नहीं कि अन्नदाता किस लिए आंदोलनरत हैं। कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडलर पर लिखा है कि देश भाजपा की किसान विरोधी नीति और नीयत से भलीभांति परिचित है। नए कृषि कानूनों को राज्यसभा की मर्यादाओं को ताक पर रख कर पारित किया गया था।

MSP की गांरटी कानून में हो : खड़गे

वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि किसान चाहते हैं कि MSP की गांरटी कानून में हो। जब मोदी साहब गुजरात के मुख्यमंत्री थे और कमेटी के अध्यक्ष थे उस वक्त उन्होंने ही लिखित में कहा था कि किसानों को MSP लिखित में मिलनी चाहिए। आज मोदी साहब खुद प्रधानमंत्री हैं तो MSP की गांरटी कानून में क्यों नहीं दे रहे हैं।

कांग्रेस ने लाया कार्यस्थगन प्रस्ताव

वहीं समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी (Manish Tewari), जसबीर गिल (Jasbir Gill) और माकपा सांसद एएम आरिफ (CPM MP AM Arif) ने लोकसभा में नए कृषि कानूनों को रद करने की मांग करते हुए कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है।

राहुल ने कसा तंज

दूसरी ओर कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी केंद्र सरकार पर हमला बोला है। राहुल ने ट्वीट किया है कि बजट में सैनिकों की पेंशन में कटौती। ना जवान ना किसान… मोदी सरकार के लिए… 3-4 उद्योगपति मित्र ही भगवान!

MSP पर क़ानून बने : राकेश टिकैत

उधर भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि MSP पर क़ानून बने यह किसानों के लिए फायदेमंद होगा। देश में भूख से व्यापार करने वालों को बाहर निकाला जाएगा। देश में अनाज की कीमत भूख से तय नहीं होगी। प्रधानमंत्री को अपील करनी चाहिए कि विधायक और सांसद अपनी पेंशन छोड़े उसके लिए यह मोर्चा धन्यवाद करेगा।

कुछ राज्यों में पहले की परंपरा के चलते भ्रम : नीतीश कुमार

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि शुरू से बताया जा रहा है कि कभी भी MSP समाप्त नहीं होगी। बल्कि किसानों को आज़ादी दी गई कि वो जहां चाहे अपने अनाज को बेच सकते हैं लेकिन कुछ राज्यों में जो पहले की परंपरा है उसको लेकर भ्रम है। इसके लिए बातचीत होती है, हमें लगता है कि कभी न कभी बातचीत से लोग संतुष्ट होंगे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



जवाब जरूर दे 

ભાણવડ નગરપાલિકામાં કોણ જીતશે ?

  • ભાજપ (47%, 8 Votes)
  • આમ આદમી પાર્ટી (35%, 6 Votes)
  • કોંગ્રેસ (18%, 3 Votes)

Total Voters: 17

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275
.