कांग्रेस ने सोमवार को ज्वाइन कांग्रे स इंटरनेट मीडिया (Join Congress Social Media) अभियानशुरू किया है। इसका मकसद पांच लाख आनलाइन वारियर्स (Online Warriors) को जोड़ना है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का कहना है कि ये वारियर्स नफरत का जवाब देंगे और भारत की विचारधारा की रक्षा करेंगे।

अभियान की शुरुआत के समय एक वीडियो संदेश में राहुल ने कहा, ‘युवा व्यक्ति होने के नाते आप जानते हैं कि क्या चल रहा है। आपसे कुछ भी छिपा नहीं है। आपके स्कूलों, कालेजों और विश्वविद्यालयों में आप उत्पीड़न देख सकते हैं, आप भारत की विचारधारा पर हमले को देख सकते हैं। दिल्ली के बाहर देखिए, आप देख सकते हैं कि किसानों के साथ क्या हो रहा है। देश पर इस लड़ाई की रीड़ ट्रोल आर्मी है। नफरत और गुस्सा फैलाने वाले हजारों लोगों को इसके लिए भुगतान किया जाता है। हमें भी उदारवादी मूल्यों, सहानुभूति, शांति, सद्भाव और प्रेम के विचारों की रक्षा करने के लिए वारियर्स की जरूरत है। आइए, इस आर्मी को ज्वाइन कीजिए। यह नफरत की आर्मी नहीं है, यह हिंसा की आर्मी नहीं है, यह सच की आर्मी है और यह वह आर्मी है जो भारत की विचारधारा की रक्षा करेगी। हम इस प्लेटफार्म का निर्माण इसलिए कर रहे हैं ताकि हम आपको इस लड़ाई को लड़ने और जीतने का टूल दे सकें।’

सैनिकों की पेंशन घटाने के लिए केंद्र की आलोचना

राहुल ने केंद्रीय बजट में सैनिकों की पेंशन घटाने और किसानों व युवाओं की अनदेखी करने के लिए केंद्र सरकार की आलोचना भी की। उन्होंने ट्वीट कर आरोप लगाया कि केंद्र सरकार के सिर्फ तीन या चार उद्योगपति मित्र हैं जो उसके लिए ‘भगवान’ हैं।

By admin