3 कृषि कानूनों को रद करने की मांग को लेकर शुरू हुआ किसान आंदोलन 6वें दिन में प्रवेश कर गया है। टीकरी और सिंघु बॉर्डर के साथ अब दिल्ली-यूपी गेट पर भी किसानों की संख्या बढ़ने लगी है।  इस बीच दिल्ली ऑटो रिक्शा यूनियन और दिल्ली प्रदेश टैक्सी यूनियन के महामंत्री राजेंद्र सोनी  (Rajendar Soni, Mahamantri, Delhi Autorickshaw Union & Delhi Pradesh Taxi Union) ने कहा है कि हम प्रदर्शनकारी किसानों के समर्थन में हैं। साथ ही यह भी स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि दिल्ली ऑटो रिक्शा और टैक्सी की हड़ताल नहीं होने जा रही है। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते 4 महीने से तो वैसे भी खाली बैठे थे ऐसे में हड़ताल को नहीं झेल पाएंगे।

आप विधायक को हिरासत में लिया गया

आम आदमी पार्टी के तिलक नगर विधायक जनरैल सिंह कनॉट प्लेस पहुंचे। मानव श्रृंखला बनाने से पहले ही पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। विधायक ने कहा कि देश के किसानों के साथ केंद्र सरकार गलत कर रही है। कई दिनों से बॉर्डर इलाके में ठंड में किसान बैठे हैं। सरकार को किसानों के बारे में सोचना चाहिए।

उधर, सिंघु बॉर्डर की तरफ से दिल्ली में जबरन प्रवेश करने के दौरान किसानों की तरफ से की गई हिंसा के खिलाफ अलीपुर थाने में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज व अन्य स्रोतों से मिले सबूतों के आधार पर मामले की जांच कर रही है। हालांकि, अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है।

वहीं, पंजाब किसान संघर्ष समिति के संयुक्त सचिव (Sukhvinder S Sabhran, Jt Secy, Punjab Kisan Sangarsh Committee) ने बताया है कि देश में किसानों के 500 से अधिक समूह हैं, लेकिन केंद्र सरकार ने केवल 32 समूहों को बातचीत के लिए आमंत्रित किया है। बाकी को सरकार द्वारा नहीं बुलाया गया है। हम तब तक बातचीत नहीं करेंगे, जब तक सभी समूहों को नहीं बुलाया जाता है। ऐसे में बैठक को लेकर असमंजस है कि क्या किसान संगठन में इसमें शामिल होंगे।

By admin