ताइपे, एपी। ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया जैसे दुनिया के विकसित देशों में चीन के खिलाफ नकारात्मक धारणा तेजी से बढ़ रही है। मंगलवार को जारी पेव रिसर्च सेंटर के सर्वे रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है। इस सर्वे की रिपोर्ट ऐसे समय में सामने आई है, जबकि चीन अपने पड़ोसियों और अन्य देशों के साथ सीमा और व्यापार विवाद को लेकर उलझा हुआ है। यह सर्वे 14 देशों में किया गया। अधिकतर लोगों के विचार चीन को लेकर अच्छे नहीं थे। टेलीफोन के जरिए 10 जून से तीन अगस्त के बीच कराए गए सर्वे में 14,276 लोग शामिल हुए ऑस्ट्रेलिया में 81 फीसद लोगों की धारणा चीन के प्रति नकारात्मक रही। पिछले साल के सर्वे के मुताबिक यह संख्या 24 फीसद अधिक है। इसकी मुख्य वजह दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंध है। ऑस्ट्रेलिया ने कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर अंतराष्ट्रीय जांच की मांग की थी, जिसके बाद चीन उससे नाराज हो गया था और ऑस्ट्रेलिया से मांस का आयात बंद करने के साथ कई सामान पर आयात शुल्क भी बढ़ा दिया था।

ब्रिटेन में भी 74 फीसद लोगों ने चीन को लेकर अच्छी राय नहीं व्यक्त की। पिछले साल के मुकाबले यह 19 फीसद ज्यादा है। इसी तरह सर्वे में शामिल अमेरिका के 73 फीसद और जर्मनी के 71 फीसद लोगों की धारणा भी चीन के प्रति अच्छी नहीं रही। यह सर्वे अमेरिका, कनाडा, बेल्जियम, डेनमार्क, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड, स्पेन, स्वीडन, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जापान और दक्षिण कोरिया में कराया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक सभी देशों में समाज के उच्च आय वालों के साथ ही कम आय वाले लोगों की राय लगभग समान थी।

By admin