ममता बनर्जी के पाले में हेमंत सोरेन, मुंह ताकती रह गई कांग्रेस

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) प्रत्याशी नहीं देगा। झामुमो ने वहां चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन से परामर्श के बाद यह फैसला लिया।

पश्चिम बंगाल में हो रहे विधानसभा चुनाव में झारखंड की सत्‍तारुढ़ पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) प्रत्याशी नहीं देगा। झामुमो ने वहां चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन से परामर्श के बाद लिए गए इस निर्णय की जानकारी मीडिया से साझा की है।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि टीएमसी सुप्रीमो बंगाल की मुख्यमंत्री ने समर्थन का आग्रह किया था। उनका फोन भी आया था और उन्होंने पत्र भी लिखा है। इस विषय पर हमारी पार्टी सुप्रीमो से चर्चा भी हुई। काफी विचार मंथन के उपरांत पार्टी सुप्रीमो ने उस दल को समर्थन देने के लिए सहमति जताई है जो सांप्रदायिक ताकतों को रोक सके और इस संदर्भ में तृणमूल कांग्रेस को समर्थन देने का निर्णय हुआ।

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा कि हम लोग वहां चुनाव नहीं लड़ेंगे और दीदी को समर्थन देंगे। कहा, अब के जो राजनीतिक हालात हैं ऐसी स्थिति में वहां पर ऐसी ताकतों के स्थापित होना का कारण यदि हम भी बन जाएं, तो यह सही नहीं होगा। और इस वजह से यह निर्णय लिया गया। उन्होंने कहा कि चोट लगने के बाद अभी तक दीदी से इस संदर्भ में कोई बात नहीं हुई है। लेकिन हमारी बात होगी ही। पूर्व में दो तीन बार फोन पर भी बात हुई ही है। चोट लगने के कुछ दिन पहले ही हमारी बात हुई थी।

सीएम ने कहा कि हम लोग लगातार संपर्क में हैं। झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने पिछले दिनों दिल्ली प्रवास के दौरान तृणमूल कांग्रेस को समर्थन देने के बाबत संकेत दिए थे। बता दें कि कुछ दिन पूर्व हेमंत सोरेन ने पश्चिम बंगाल में झामुमो द्वारा आयोजित एक कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लिया था, जिस पर तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी।

हार निश्चित देख झामुमो ने छोड़ा मैदान : भाजपा

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि बिहार की तरह झारखंड मुक्ति मोर्चा का पश्चिम बंगाल में भी खाता नहीं खुलने वाला था इसलिए वह समय रहते मैदान छोड़कर भाग गए हैं। प्रतुल ने कहा की बड़े-बड़े दावे कर के झामुमो ने बंगाल में चुनाव लड़ने की घोषणा की थी और अपने नेताओं को भी बंगाल भेजा था।लेकिन उन्हें बंगाल की हवा के रुख से पता चल गया कि इस बार भाजपा के सामने किसी दल की नहीं चलने वाली। इसीलिए वो मैदान छोड़कर भाग गए।

कांग्रेस के स्टार प्रचारकों में रामेश्वर उरांव व आलमगीर आलम भी शामिल

कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है, जिसमें सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत 30 शीर्ष नेताओं के नाम शामिल किए गए हैं। सूची में झारखंड प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रामेश्वर उरांव व विधायक दल के नेता आलमगीर आलम को भी जगह दी गई है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275
.