तिलवारा शंकर घाट के पास रहने वाले विजेत कश्यप (34) ने दो माह पहले पूजा शुक्ला से प्रेम विवाह किया था। पूजा का भाई मिंटू उर्फ धीरज शुक्ला इस शादी के खिलाफ था। विरोध को देखते हुए विजेत पूजा को लेकर शहर से बाहर चला गया था।

मध्य प्रदेश के जबलपुर के तिलवारा थाना क्षेत्र में बहन के दूसरी जाति के युवक से प्रेम विवाह करने से नाराज भाई ने बुधवार को जीजा की नृशंस हत्या कर दी। आरोपित ने जीजा की गर्दन और दायां हाथ कुल्हाड़ी से काट दिया। इतना ही नहीं, आरोपित ने कटा हुआ सिर एक बोरी में रखा और उसे लेकर पैदल ही तिलवारा थाने पहुंच गया। जब उसने पुलिस के सामने बोरी को खोला, तो कटा हुई सिर देखकर पुलिस सकते में आ गई।

बहन ने फांसी लगाई 

आरोपित ने बताया कि जीजा का धड़ खेत की मेड़ पर पड़ा है। पुलिस मौके पर पहुंची और धड़ बरामद किया। कुछ देर बाद सूचना मिली कि आरोपित की बहन (मृतक की पत्नी) ने भी हत्या की बात सुनकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई।

युवती को उसके मायके लेने गया था युवक 

तिलवारा टीआइ सतीश पटेल ने बताया कि तिलवारा शंकर घाट के पास रहने वाले विजेत कश्यप (34) ने दो माह पहले रमनगरा में रहने वाली पूजा शुक्ला से प्रेम विवाह किया था। पूजा का भाई मिंटू उर्फ धीरज शुक्ला इस शादी के खिलाफ था। विरोध को देखते हुए विजेत पूजा को लेकर शहर से बाहर चला गया था। दो सप्ताह पहले ही विजेत पूजा के साथ यहां लौटा था। इसके बाद से ही पूजा मायके में थी।

By admin