केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह वर्ष 2012 में गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष थे, तब उपाध्‍यक्ष परिमल नथवाणी व उन्‍होंने मोटेरा स्‍टेडियम के नवीनीकरण का प्रस्‍ताव उनके समक्ष रखा था। तब नरेंद्र मोदी ने उनसे कहा था कि गुजरात में जो भी बने विश्‍व में सबसे अनूठा बनना चाहिए। इसकी छत का डिजाइन वाल्‍टर पी मूरे ने किया, जबकि निर्माण लार्सन एंड टूब्रो ने रिकार्ड समय में किया। यह पूरी तरह भूकंपरोधी है। नरेंद्र मोदी स्‍टेडियम का निर्माण 63 एकड़ में 800 करोड़ की लागत से हुआ। 24 फरवरी, 2020 को यहीं पर नमस्‍ते ट्रंप समारोह हुआ था। इधर, मोटेरा स्टेडियम के नामकरण को लेकर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने कहा कि क्या यह सरदार पटेल का अपमान नहीं है। सरदार पटेल के नाम पर वोट मांगने वाली भाजपा उनका अपमान कर रही है। गुजरात यह अपमान नहीं सहेगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अहमदाबाद के मोटेरा में स्थित नरेंद्र मोदी स्टेडियम का उद्घाटन किया। गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि अहमदाबाद को स्पोर्ट्स सिटी के रूप में विकसित करेंगे, ताकि यहा कॉमनवेल्थ, एशियाड तथा ओलंपिक गेम्स भी हो सकें। मोटेरा स्‍टेडियम का नामकरण बुधवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर किया गया, देश का पहला निर्माण है, जिसका नामकरण प्रधानमंत्री मोदी के नाम पर किया गया।

राष्ट्रपति ने 233 एकड़ में बनने वाले सरदार पटेल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स की भी नींव रखी। स्पोर्ट्स कांप्लेक्स में 20 अलग-अलग तरह के स्टेडियम होंगे जिनमें से एक मेजर ध्यान चंद के नाम पर हॉकी का स्टेडियम होगा। शाह के लोकसभा क्षेत्र के नारणपुरा इलाके में 18 एकड़ में भी एक स्‍पोर्टस  कॉम्‍पलेक्‍स बनाया जाएगा, जहां विश्‍वस्‍तरीय टेनिस आदि की सुविधा होगी। नरेंद्र मोदी स्टेडियम दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है, जिसकी बैठक क्षमता एक लाख 32 हजार है।

अमित शाह ने बताया कि एफिल टावर से 10 गुना स्टील इसको बनाने में लगे हैं। एक भी पिलर के बिना 14 सौ स्टील के सपोर्ट से इसे बनाया गया है। नरेंद्र मोदी स्टेडियम में मुख्य पिच के अलावा चार और पिच बनाए गए हैं। इसमें 76 वीवीआईपी कॉरपोरेट बॉक्स, सोइल ड्रेनेज सिस्टम के कारण बारिश होने के आधा घंटे बाद फिर से मैच शुरू किया जा सकता है। 63 एकड़ में बने नरेंद्र मोदी स्टेडियम को सभी आधुनिक खेल सुविधाओं से युक्त किया गया है। दुनिया में पहली बार किसी स्‍टेडियम में 4 ड्रेसिंग रूम जिम्‍नेजियम के साथ होंगे। यहां बेक टू बेक दूसरा मैच भी कराया जा सकता है। आसपास के 3 जिलों की 650 स्‍कूलों को स्‍पोर्टर्स कॉप्म्‍पलेक्‍स से जोडा जाएगा ताकि बच्‍चों को एक ही स्‍थल पर सभी खेल के प्रशिक्षण की सुविधा मिल सके।

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने बताया कि अहमदाबाद भारत का सपोर्ट सिटी के रूप में उभरता नया शहर बन गया है। सरदार पटेल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स के शिलान्यास तथा नरेंद्र मोदी स्टेडियम के निर्माण पर गुजरात व देश को गर्व होगा। दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तथा दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम नरेंद्र मोदी स्टेडियम गुजरात में है। कांग्रेस ने हमेशा भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के साथ अन्याय किया, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार पटेल को सम्मान दिया तथा उनके नाम पर नर्मदा जिले में दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का निर्माण कराया। दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा के बाद अब दुनिया में सबसे बड़ा स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स भी सरदार पटेल के नाम पर होगा। समरोह में उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल, एशियन क्रिकेट काउंसिल के अध्‍यक्ष जय शाह व गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्‍यक्ष धनराज नथवाणी भी मौजूद रहे।

By admin