क्‍यों चर्चा में है राहुल गांधी की शादी, ‘हम दो-हमारे दो’ से कैसे जुड़ा नाता?

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के तंज वाले नारे हम दो- हमारे दो पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की सरकार के मंत्री रामदास अठावले ने जबर्दस्‍त चुटकी ली है। रांची में एक कार्यक्रम में शामिल होने आए अठावले ने राहुल गांधी को लेकर मजेदार बात कह डाली। सदन से लेकर बाहर तक अपने मजाकिया स्‍वभाव के लिए चर्चित रहे आरपीआइ प्रमुख रामदास अठावले ने बात ही बात में हंसते-हंसते राहुल गांधी को दलित की बेटी से शादी कर महात्‍मा गांधी के सपने को पूरा करने की नसीहत दे दी। कहा कि हम दो- हमारे दो के लिए पहले शादी तो कीजिए…। मालूम हो कि इन दिनों राहुल गांधी (Rahul Gandhi) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और अमित शाह (Amit Shah) और मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) तथा गौतम अदाणी (Gautam Adani) का नाम लिए बिना हम दो- हमारे दो के स्‍लोगन से निशाना साध रहे हैं।

रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया (आरपीआइ) के अध्यक्ष सह केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को नसीहत दे डाली कि वे दलित की बेटी से शादी करें। ऐसा करने से महात्मा गांधी का सपना पूरा होगा। अठावले ने जाति आधारित जनगणना की वकालत की। कहा, कि इससे जातपात बढ़ने की बात कहने वाले लोग गलत बोलते हैं। घर का बच्चा भी पांच-छह वर्ष की उम्र में अपनी जाति से परिचित हो जाता है। उन्होंने दामोदर घाटी परियोजना (डीवीसी) का नाम डा. भीमराब अंबेदकर के नाम पर करने की मांग की। अठावले ने कहा कि जब वे केंद्र सरकार में सिंचाई मंत्री थे तो उन्होंने इस परियोजना की नींव डाली थी, लिहाजा यह परियोजना उनके नाम करना चाहिए।

मंत्री पद का ख्याल रखें अठावले : कांग्रेस

इधर रामदास अठावले के राहुल गांधी को दलित की बेटी से शादी करने वाले बयान पर कांग्रेस के तेवर तल्‍ख हैं। पार्टी ने अठावले के बयान पर आपत्ति जताई है। प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि वे बहकी-बहकी बातें कर रहे हैं। उनके बयान से यह भी स्पष्ट हो गया है कि केंद्र सरकार झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार करती है, जो संघीय ढांचे के लिए नुकसानदेह है। रामदास अठावले केंद्रीय मंत्री हैं। उन्हें अपनी गरिमा का ख्याल रखना चाहिए। वे बचकाना बयान देने के आदी रहे हैं। उनकी बयानबाजी मुंगेरी लाल के हसीन सपने की याद दिलाती है।

हेमंत सोरेन को एनडीए में शामिल होने का न्योता दिया

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को एनडीए में शामिल होने का न्योता दिया है। रामगढ़ में आरपीआइ के राष्ट्रीय सचिव केआर नायक के श्रद्धांजलि समारोह में भाग लेने आए अठावले यहां स्टेट गेस्ट हाउस में मीडिया से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा अगर एनडीए में शामिल हुआ तो झारखंड को केंद्र सरकार से योजनाओं के मद में मिलने वाला पैसा भी ठीक से मिलेगा। शिबू सोरेन को केंद्र सरकार में मंत्री बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में शिबू सोरेन एनडीए के साथ रह चुके हैं।

हालांकि मंत्री इस सवाल का जवाब नहीं दे पाए कि हेमंत सोरेन अगर एनडीए में शामिल होते हैं तो मुख्यमंत्री कौन बनेगा? उन्होंने कहा कि जब एनडीए में वे शामिल होंगे, तब देखा जाएगा। इस सवाल पर भी उन्होंने कन्नी काट ली, जब उनसे पूछा गया कि एनडीए में नहीं रहने की वजह से झारखंड को केंद्र सरकार से अपेक्षित सहयोग नहीं मिल पा रहा है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275
.