गरीब, बेरोजगारों को नजरअंदाज किया गया, तो ये बजट किस लिए? चिदंबरम ने पूछा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज राज्यसभा में पूर्वी लद्दाख की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी दी। वे आज लोकसभा में भी पूर्वी लद्दाख की स्थिति पर बयान देंगे। उन्होंने राज्यसभा में बताया कि दोनों पक्षों के बीच पूर्ण स्थिति को बहाल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि चीन पैंगोंग झील के उत्तरी तट पर फिंगर 8 के पूर्व में अपने सैनिकों को रखेगा। भारत अपने सैनिकों को फिंगर 3 के पास अपने स्थायी बेस पर रखेगा।

रक्षा मंत्री के राज्यसभा में जवाब देने के बाद भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख इलाके में पिछले करीब एक साल से जारी सीमा विवाद अब खत्म होता दिख रहा है। राजनाथ ने राज्यसभा में बताया कि पैंगोंग झील के पास विवाद को लेकर भारत और चीन के बीच समझौता हो गया है। दोनों देशों की सेनाओं को अब पीछे हटना होगा। अप्रैल 2020 से पहले की स्थिति को अब बहाल कर दिया जाएगा। बता दें कि चीन और भारत दोनों ने LAC पर स्थित पैंगोंग झील के इलाके के फ्रंट लाइन से अपने सैनिकों को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल वू कियान का हवाला देते हुए, चीनी मीडिया ने बताया था कि लद्दाख में पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारे पर तैनात दोनों देशों की सेना ने बातचीत के दौरान आम सहमति के अनुसार पीछे हटना शुरू कर दिया है।

वहीं, बुधवार को, पीएम मोदी ने लोकसभा में बोलते हुए प्रदर्शनकारी किसानों को संबोधित किया और तीनों कृषि कानूनों का बचाव किया, जबकि राहुल गांधी की अगुवाई में कांग्रेस ने विरोध में वॉकआउट किया। संसद के घटनाक्रम पर लाइव अपडेट नीचे आएंगे, जुड़े रहें…

Live Updates:

  • -कांग्रेस सांसद के सुरेश ने ‘भीमा कोरेगांव मामले के एक आरोपी के डिजिटल सबूतों से छेड़छाड़’ को लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव दिया है।
  • -बीएसपी सांसद रितेश पांडे ने लोकसभा में ‘भारत के कोविड वैक्सीन रोलआउट योजना से संबंधित चर्चा की मांग’ को लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया है।
  • -लोकसभा में राजनाथ सिंह के बयान के तुरंत बाद आज बजट चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बोलने की उम्मीद है। बीते दिन पीएम मोदी के संबोधन के दौरान, कांग्रेस ने वॉकआउट कर दिया था। इसमें राहुल गांधी भी शामिल थे, अब जहां आज वे राजनाथ सिंह के बाद लोकसभा में बोलेंगे।
  • -वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कल राज्यसभा में बजट चर्चा पर जवाब देंगी।
  • -रक्षा मंत्रालय ने बताया, ‘रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज शाम 5.00 बजे लोकसभा में ‘पूर्वी लद्दाख की वर्तमान स्थिति’ पर वक्तव्य देंगे।’
  • -कांग्रेस सांसद चिदंबरम बोले- 120 मिलियन से अधिक लोगों ने महामारी में और सरकार की वजह से अपनी नौकरी खो दी। 35% MSME बंद हैं। पिछड़े राज्यों में स्थिति बदतर। इस भारी समस्या का एकमात्र समाधान विशेषज्ञों की विशिष्ट सलाह है, जो भारतीय अर्थशास्त्रियों और भारतीय अर्थव्यवस्था में संरचनात्मक मुद्दों को संबोधित करते हैं। हमने उन गरीबों की उपेक्षा की है, जिन्होंने अपनी नौकरी खो दी है। यदि हम भारत के लोगों की मांग को नजरअंदाज करते हैं, तो यह बजट किसके लिए है? राज्यसभा में चिदंबरम ने कहा, ‘यह बजट अमीरों के लिए है। हम इस बजट को अस्वीकार करते हैं क्योंकि इसमें गरीबों के लिए कुछ भी नहीं है।’
  • -व्यापार सलाहकार समिति ने फैसला किया है कि राज्यसभा के बजट सत्र की पहली छमाही कल संपन्न होगी।
  • -रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘पैंगोंग झील क्षेत्र में पूरी तरह से चीन द्वारा सेना को हटाए जाने के 48 घंटे के भीतर वरिष्ठ कमांडरों की अगली बैठक बुलाने पर भी सहमति व्यक्त की गई है ताकि अन्य सभी मुद्दों को हल किया जा सके।’
  • -राज्यसभा में हंगामा, विपक्ष ने लद्दाख सीमा स्थिति पर राजनाथ के बयान पर बहस की मांग की, सभापति वेंकैया नायडू ने सवालों की अनुमति देने से इनकार कर दिया। सभापति नायडू ने कहा, ‘लद्दाख मामला राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है, मैंने राजनाथ सिंह को बयान देने की अनुमति दी। लेकिन इस मुद्दे की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए, हमें इस मामले में एक ही स्वर की आवश्यकता है।
  • -राजनाथ सिंह ने बताया, ‘चीन पैंगोंग झील के उत्तरी तट पर फिंगर 8 के पूर्व में अपने सैनिकों को रखेगा। भारत अपने सैनिकों को फिंगर 3 के पास अपने स्थायी बेस पर रखेगा।’
  • -राजनाथ सिंह बोले- मैं आश्वस्त हूं कि यह पूरा सदन, चाहे कोई किसी भी दल का क्यों न हो, देश की संप्रभुता, एकता, अखंडता और सुरक्षा के प्रश्न पर एक साथ खड़ा है और एक स्वर से समर्थन करता है कि यही सन्देश केवल भारत की सीमा तक ही सीमित नहीं रहेगा बल्कि पूरे जगत को जाएगा।
  • -रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हैं कि द्विपक्षीय समझौतों और प्रोटोकॉल के तहत पूर्ण स्थिति के तहत जल्द से जल्द कर दुरुस्त की जाए। चीन भी देश की सम्प्रभुता की रक्षा के हमारे संकल्प से अवगत है। यह अपेक्षा है कि चीन द्वारा हमारे साथ मिलकर बचे हुए मुद्दों को हल करने का प्रयास किया जाएगा।
  • -राजनाथ बोले- पैंगोंग झील क्षेत्र में चीन के साथ पहले जैसी स्थिति को लेकर जो समझौता हुआ है, उसके अनुसार दोनों पक्ष आगे की तैनाती चरणबद्ध, समन्वित और सत्यापित तरीके से हटाएंगे। उन्होंने कहा कि मैं इस सदन को आश्वस्त करना चाहता हूं कि इस बातचीत में हमने कुछ भी खोया नहीं है। सदन को यह जानकारी भी देना चाहता हूं कि अभी भी एलएसी पर तैनाती और पैट्रोलिंग के बारे में कुछ बकाया मुद्दे बचे हैं। इन पर हमारा ध्यान आगे की बातचीत में रहेगा।
  • -राजनाथ सिंह ने बताया मुझे सदन को यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमारे इस दृष्टिकोण और निरंतर वार्ता के फलदायी चीन के साथ पैंगोंग झील के उत्तर और दक्षिण बैंक पर मतभेद को खत्म करने की दिशा में समझौता हो गया है। बताया गया कि अब तक वरिष्ठ कमांडरों के स्तर पर 9 राउंड की बातचीत हो चुकी है। 
  • -रक्षा मंत्री बोले- बातचीत के लिए हमारी रणनीति और दृष्टिकोण माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस दिशा निर्देश पर आधारित है कि हम अपनी एक इंच जमीन भी किसी और को नहीं लेने देंगे। हमारे दृढ़ संकल्प का ही यह फल है कि हम समझौते की स्थिति पर पहुंच गए हैं।
  • -राजनाथ सिंह बोले- चीन ने एलएसी पर हथियार और गोला-बारूद और सैनिकों की संख्या बढ़ा दी। हमने चीन का मुकाबला करने के लिए स्पष्ट कदम उठाया है। हमारे पास बहादुर जवान हैं जो रणनीतिक स्थानों पर डटे हैं। और हम इन स्थानों पर बढ़त के साथ हैं। जवानों ने साबित किया है कि वे राष्ट्र की अखंडता को बनाए रखने के लिए कुछ भी करेंगे। हम चाहते हैं कि दोनों पक्ष एलएसी का सम्मान करें। एकतरफा एलएसी में कोई बदलाव नहीं हुआ है। हम चाहते हैं कि 2020 की फॉरवर्ड तैनाती को चरणबद्ध तरीके से हटाया जाए।
  • -राजनाथ बोले- भारतीय सेनाऍं अत्यंत बहादुरी से लद्दाख की ऊंची दुर्गम पहाडि़यों तथा कई मीटर बर्फ के बीच में भी सीमाओं की रक्षा करते हुए अडिग हैं और इसी कारण हमारी सीमा पर बढ़त है।
  • -राजनाथ सिंह ने कहा, ‘हमारे सैनिकों ने लद्दाख में सीमा की रक्षा करने में अत्यधिक वीरता दिखाई है, यही कारण है कि भारत चीन के सामने डटकर खड़ा है। उन्होंने कहा कि मुझे यह बताते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि भारतीय सेनाओं ने इन सभी चुनौतियों का डट कर सामना किया है तथा अपने शौर्य एवं बहादुरी का परिचय पैंगोंग के दक्षिण और उत्तर बैंक पर दिया है। 
  • -राजनाथ बोले- पिछले वर्ष मैंने इस सदन को अवगत कराया था कि LAC के आस-पास पूर्वी लद्दाख में कई घर्षण क्षेत्र बन गए हैं। हमारे सशस्त्र सेनाओं द्वारा भी भारत की सुरक्षा पर्याप्त है तथा प्रभावी काउंटर नियुक्ति की गई है।
  • राज्यसभा में बोले राजनाथ सिंह- मैं सदन को यह भी बताना चाहता हूं कि भारत ने चीन को हमेशा यह कहा है कि द्विपक्षीय संबंध दोनों पक्षों के प्रयास से ही विकसित हो सकते हैं, साथ-साथ ही सीमा के प्रश्न को भी बातचीत के जरिए हल किया जा सकता है। राजनाथ सिंह बोले- हमने यह स्पष्ट किया है कि क्षेत्र में शांति बनाए रखने के लिए सेनाओं को वापस लेना आवश्यक है।

-राजनाथ सिंह ने चीन से हालिया स्थिति पर जानकारी देना शुरू किया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



जवाब जरूर दे 

ભાણવડ નગરપાલિકામાં કોણ જીતશે ?

  • ભાજપ (47%, 8 Votes)
  • આમ આદમી પાર્ટી (35%, 6 Votes)
  • કોંગ્રેસ (18%, 3 Votes)

Total Voters: 17

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275
.