लालू की हालत गंभीर, चार्टर्ड प्लेन से ले जाए जाएंगे दिल्ली; मेडिकल बोर्ड ने दी मंजूरी

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को इलाज के लिए दिल्‍ली ले जाया जाएगा। उनके बेहतर इलाज के लिए गठित की गई मेडिकल बोर्ड ने इसकी अनुशंसा की है। इधर, जेल प्रशासन ने भी इसकी पुष्टि की है। शाम तक चार्टर्ड प्लेन से उन्‍हें दिल्ली ले जाया जाएगा। उनकी तबीयत लगातार बिगड़ रही है। इससे पूर्व लालू को दूसरे अस्‍पताल शिफ्ट करने के लिए आठ सदस्‍यीय मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया। इन आठ सदस्‍यों में अलग-अलग विभाग के डॉक्‍टर हैं। म‍ेडिकल बोर्ड की बैठक के बाद लालू प्रसाद को बेहतर इलाज के लिए दिल्‍ली ले जाने की सहमति बनी। आधे घंटे में कागजी प्रक्रिया और सुरक्षा संबंधित सभी व्यवस्था हो जाना है। दोपहर बाद लालू प्रसाद के डाॅक्‍टर उमेश प्रसाद ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि राजद सुप्रीमो को हायर सेंटर भेजे जाने पर सहमति बन गई है।

इधर, शनिवार को भी राबड़ी देव अपने पति लालू प्रसाद से मिलने रिम्‍स पहुंची। वे 10:32 बजे रिम्‍स पहुंची। शुक्रवार देर रात 12:40 बजे पेइंग वार्ड से निकलने के बाद सपरिवार होटल रेडिसन ब्लू चली गई थी। वहां से आज सुबह बगैर नाश्‍ता किए रिम्स पहुंची। बताया गया कि राबड़ी देवी ने लालू के साथ नाश्‍ता किया। कृषि मंत्री बादल पत्रलेख राजद सुप्रीमो से मुलाकात करने रिम्स पहुंचे हैं। पौने दो बजे के लगभग लालू की बेटी मीसा भारती भी अपने पिता से मिलने पहुंची। पेइंग वार्ड के बाहर राजद कार्यक्रयाओं और नेताओं की भीड़ है।

शुक्रवार की देर रात भी उनकी हालत अचानक खराब हो गई। डॉ उमेश प्रसाद की टीम ने तुरंत ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर लेवल की जांच की। दवाई देने के आधे घंटे के बाद वे थोड़े स्टेबल हुए। बिहार से रांची आने के बाद पत्नी राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव लालू प्रसाद से मिलने रिम्‍स के पेइंग वार्ड पहुंचे। बेटी मीसा भारती और दामाद दोपहर से ही राजद सुप्रीमो की सेवा में जुटे रहे।

तेजस्‍वी यादव ने लालू की हालत सीरियस बताते हुए कहा कि लालू बहुत तकलीफ में हैं। उन्‍हें बेहतर इलाज की जरूरत है। जांच रिपोर्ट आने के बाद डॉक्‍टर से परामर्श कर उन्‍हें एम्‍स, दिल्‍ली ले जा सकते हैं। शनिवार को तेजस्‍वी इस बारे में झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन से भी मुलाकात करेंगे।

इधर, करीब शु्क्रवार को छह घंटे मुलाकात के बाद पूरा परिवार रात 12:40 बजे एक साथ बाहर निकला। निकलने के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद के लंग्स में पानी जम गया है। वे निमोनिया से पीड़ित है। ऐसे में कोरोना का भी संदेह था, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आयी है। लालू प्रसाद की कई जांच की गई है जिसका रिपोर्ट आना फिलहाल बाकी है। सभी रिपोर्ट आने के बाद डॉक्टरों द्वारा बताए गए निर्देश के बाद परिवार यह निर्णय लेगा कि उन्हें बेहतर इलाज के लिए बाहर भेजा जाए।

जांच रिपोर्ट आने के बाद बाहर ले जाने पर निर्णय : तेजेस्वी

तेजस्‍वी ने कहा कि जब तक पिता की पूरी जांच रिपोर्ट नहीं आ जाती है तब तक वह रांची में ही रहेंगे। तेजस्वी ने कहा कि लालू प्रसाद पहले से भी कई तरह की बीमारी से पीड़ित हैं। उनका क्रिएटिनिन लेवल लगातार बढ़ता जा रहा है। किडनी मात्र 25% ही काम कर रही है। ऐसे में निश्चित तौर पर उन्हें और बेहतर इलाज की जरूरत है। उन्होंने पिता को बेहतर इलाज के लिए बाहर ले जाने के संकेत दिए है।

लालू के लंग्स में पानी, निमोनिया से पीड़ित

रात 12:45 बजे लालू प्रसाद से मुलाकात कर पेइंग वार्ड से बाहर निकले तेजस्वी ने कहा कि उनके पिता लालू प्रसाद पहले से भी कई तरह की बीमारियों से पीड़ित हैं। चिकित्सकों की सलाह के आधार पर बेहतर इलाज के लिए बाहर ले जाने पर निर्णय करेंगे। फिलहाल लालू के चेहरे में सूजन बढ़ गया है। शरीर में भी पहले से गिरावट आई है। उनका क्रिएटिनिन लेवल लगातार बढ़ रहा है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275
.