झारखंड के गांव से ग्राउंड रिपोर्ट:पीड़िताएं बाेलीं- बेटी बाेलती जा रही थी और बाप कपड़े उतार रहा था, पुलिस ने तन ढंकने के लिए कपड़े दिए

  • डायन बताकर हैवानियत करने वाले सभी फरार, डीसी-एसपी गांव पहुंचे
  • पुलिस ने 33 नामजद और 55 अज्ञात लाेगाें पर केस दर्ज कर लिया है

डायन के नाम पर शुक्रवार काे तीन महिलाओंं काे निर्वस्त्र कर पीटने और बिना कपड़े के नाचने का दबाव बनाने की घटना के बाद नारायणपुर गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव के सभी पुरुष फरार हैं। सिर्फ महिलाएं हैं, वह भी सहमी हुई हैं। शनिवार काे डीसी-एसपी गांव पहुंचे ताे पीड़िताएं उनसे दाेषियाें काे पकड़ने की गुहार लगा रही थीं। इस मामले में पुलिस ने 33 नामजद और 55 अज्ञात लाेगाें पर केस दर्ज कर दाे लोगों काे गिरफ्तार कर लिया है।

दैनिक भास्कर शनिवार काे गांव पहुंचा ताे पीड़िताओं ने दिल दहला देने वाली आपबीती सुनाई। झाेपड़ीनुमा घर में अकेले रह रही 75 साल की विधवा ने कहा-आराेपी बलि रजवार की दाेनाें बेटियां डायन कहकर एक-एक कर हमारे कपड़े उतारने की बात कह रही थी और बाप हमारे कपड़े उतार रहा था। हम लाेगाें पर चावल छिड़का जा रहा था और इज्जत काे सरेआम तार-तार किया जा रहा था।

अब आराेपी हमें धमकी दे रहा है। वहीं 40 साल की दूसरी पीड़िता ने कहा-सात युवक हम तीनाें काे पकड़े हुए थे। आंख-मुंह बंद कर रखा था। पुलिस ने भीड़ काे खदेड़ा और हमें तन ढंकने के कपड़े दिए।

मां-बेटे के रिश्ते काे शर्मसार करने पर उतारू थे, भाग कर बचाई जान

तीसरी पीड़िता 55 साल की महिला ने कहा- आराेपी मां-बेटे के रिश्ते काे शर्मसार करने पर उतारू थे। हमें पीटा गया। गांववाले मेरे बेटे काे ओझा बताकर पकड़ लाए। उसकी भी पिटाई करने लगे। इसी दाैरान मैं वहां से भाग निकली। अगर मैं भागी नहीं हाेती ताे बेटे से कभी आंख नहीं मिला पाती।

डीसी-एसपी से गुहार-दाेषियाें काे सजा दिलाएं

डीसी राजेश कुमार पाठक और एसपी श्रीकांत एस खाेटरे शनिवार काे गांव पहुंचे। पीड़िताओं की एक ही गुहार थी कि दाेषियाें काे सजा दिलाएं। डीसी ने कहा- दाेषियाें पर कड़ी कार्रवाई हाेगी। वहीं एसपी ने कहा कि दाे-तीन दिन के भीतर सभी आरोपी जेल में हाेंगे।

अखबारो ने उठाया था मुद्दा

नारायणपुर गांव में पंचायत कर महिलाओं काे अर्धनग्न हाेकर नाचने काे कहा गया। इनकार करने पर पिटाई की। एक महिला की आंख फाेड़ने की भी काेशिश की। भास्कर ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया था।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275
.